NFT Kya Hai या Non Fungible Token क्या है

NFT एक डिजिटल टोकन है जो कि ब्लॉकचैन के सिद्धांत पर काम करता है

जैसे बिटकॉइन ब्लॉकचैन के सिद्धांत पर काम करता है और एक व्यक्ति दूसरे व्यक्ति को बिटकॉइन ट्रांसफर कर सकता है तब उस इस्थति में बिटकॉइन का मालिक उसका प्राप्त करता होता है इसे Fungible कहते है।

चलिए इसको बिटकॉइन के माध्यम से समझते है।

Arrow

ठीक इसके विपरीत यदी कोई भी डिजिटल फ़ाइल जिसको कोई भी खरीद सके और उसके ऊपर एक टोकन लगाया गया हो जोकि उसके मुख्य स्रोत या मालिक की पहचान बताये उसे non fungible कहते है।

मतलब उस डिजिटल वस्तु को कितने भी बार बेचा या खरीदा जाए पर उसका मालिक एक ही हो ओर उसको दरसाने के लिये एक टोकन यूज़ किया जाए उसे non fungible token कहते है।

NFT कहा यूज़ किया जाता है

मानलीजिए आपने एक फोटोग्रफ़ बनाई या कोई भी वीडियो, डॉक्युमेंट, आदि बनाया उसको आप ब्लॉकचैन में अपलोड करके टोकन ले सकते है। ब्लॉकचैन में आप गेमिंग, कोई भी आर्ट, म्यूजिक, डॉक्यूमेंट आदि तो रजिस्टर कर सकते है

जैसे है आप किसी भी फ़ाइल को अपलोड करते है आपका एक यूनिक टोकन आईडी जेनरेट कर दिया जाता है उस id की सहायता से कोई भी व्यक्ति यह सत्यापित कर सकता है कि इस आर्ट को बनाने वाला या इसका मालिक को है।

NFT  Ethereume ERC-721 में यूज़ किया जाता है erc एक स्टैंडर्ड है ERC-1155 इसका प्रारंभिक स्टैंडर्ड है इसके तहत किसी भी डिजिटल आर्ट को ऑनलाइन टोकन के लिये वेरीफाई किया जा सकता है।